ग्राम प्रधान को धमकी देने वाले की गिरफ्तारी को ग्रामीणों का धरना

172

फोटो-आरोपी की गिरफ्दारी की मांग को लेकर उर्गम मे धरना देते ग्रामीण ।
प्रकाश कपरूवाण
जोशीमठ। उर्गम घाटी के ग्रामीण अनशन पर। एक बाहरी व्यक्ति द्वारा गाॅव मे आंतक फैलाने व ग्राम प्रधान को जान से मारने की धमकी को लेकर ग्रामीणों मे भारी आक्रोष। आरोपी की गिरफ्तारी की मांग पर अडे है ग्रामीण ।
जोशीमठ प्रख्ंाड की उर्गम घाटी मे दिल्ली निवासी राहुल नाम के एक व्यक्ति द्वारा अनुसूचित जाति के ग्रामीण से लीज पर भूमि लेकर उस पर निर्माण किया जा रहा था। निर्माण के दौरान उस ब्यक्ति द्वारा सार्वजनिक रास्तों पर अतिक्रमण व अवैध निमार्ण पर जब ग्राम प्रधान मिंकल देवी ने आपत्ति की तो उस ब्यक्ति ने प्रधान को ही जान से मारने की धमकी दे डाली। प्रधान को धमकी दिए जाने व शिकायत के वावजूद आरोपी की गिरफ्तारी नही होने के कारण पैनख्ंाडा जोशीमठ के सभी प्रधानों मे भारी आक्रोष है और क्षेत्र के समस्त जनप्रतिनिधि आरोपी की तत्काल गिरफ्दारी की मांग कर रहे है।
इस बीच उर्गम के ग्रामीणों ने आरोपी की गिरफ्तारी व लीज रदद करने की मांग को लेकर उर्गम मे ही धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। इस धरने मे प्रधान के समर्थन मे उर्गम घाटी के ग्रामीणों के अलावा अन्य क्षेत्रों के ग्रामीण व जनप्रतिनिधि भी उर्गम पंहुच रहे हैं।
प्रधान संगठन जोशीमठ के अध्यक्ष अनूप नेगी ने धरने का समर्थन करते हुए कहा प्रकृति की शाॅत घाटी उर्गम मे दिल्ली से आया हुआ एक ब्यक्ति उत्पात मचा रहा है। और प्रशासन मौन है। प्रधान को जान से मारने की धमकी देने वाला आरोपी खुलेआम घूम रहा है। विगत कई दिनों से उर्गम घाटी के ग्रामीण आंदोलनरत हैं लेकिन इनकी सुनवाई करने के वजाय प्रशासन द्वारा धरना-प्रदर्शन को ही अवैध बताया जा रहा है। जबकि घाटी के ग्रामीण कोविड-19 की गाइड लाइन का पालन करते हुए नियमित धरना-प्रदर्शन व क्रमिक अनशन कर रहे है।
प्रधान संघ के अध्यक्ष श्री नेगी के अनुसार प्रशासन द्वारा अब कहा जा रहा है कि उक्त ब्यक्ति के खिलाफ एफआईआर हो गई है। और लीज को निरस्त करने की कार्यवाही की जा रही हैं जबकि अभी तक संबधित प्रधान व ग्रामीणों को एफआईआर की प्रति तक नही दी गई। उन्होने कहा कि यदि शीध्र आरोपी की गिरफ्दारी नही हुई तो ग्रामीणों व जनप्रतिनिधियों को आमरण अनशन के लिए विवश होना पडेगा। क्षेत्र प्रमुख हरीश परमार ने प्रशासन स्तर से अभी तक आरोपी के खिलाफ कार्यवाही नही किए जाने पर नाराजगी जाहिर की है।
इधर संपर्क करने पर तहसीलदार चंद्रशेखर बशिष्ठ ने बताया कि उक्त ब्यक्ति के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज हो चुकी है, और विवेचना जारी है। इसके अलावा उक्त ब्यक्ति को गलत तरीके से भूमि लीज पर दिए जाने वाले ग्रामीण को भी नोटिस जारी कर स्पष्ट किया गया है कि नियमो के विपरीत लीज दिए जाने के कारण क्यो ने उसकी भमि को राज्य सरकार मे निहित कर दी जाय। उन्होने कहा प्रशासन स्तर से पुख्ता कार्यवाही की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here