चमोली जिले में शनिवार को सात कोरोना पाजिटिव मिले

69

फोटो.स्वास्थ्य परीक्षण करते चिकित्सा कर्मी।
प्रकाश कपरवान
जोशीमठ, चमोली। जिले में शनिवार को 7 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पाॅजिटिव मिली। जिसमें एचसीसी पीपलकोटी से 4 जोशीमठ, नारायणबगड तथा गोपेश्वर से 1-1 व्यक्ति की रिपोर्ट पाॅजिटिव आई। स्वास्थ्य विभाग ने संक्रमितों का इलाज शुरू कर दिया है। कोरोना वायरस से जिले में अब तक 1446 लोग संक्रमित हुए है। हालांकि इसमें से 1191 लोग स्वस्थ भी हो चुके हैं और 255 एक्टिव केस है। जिला प्रशासन के पुख्ता इंतेजाम और स्वास्थ्य विभाग की कडी मेहनत से अभी तक कोरोना संक्रमण से जिले में कोई भी मृत्यु नही हुई है। जो कि पूरे जिले के लिए बडी राहत की खबर है।

कोविड संक्रमण की रोकथाम को लेकर जिला प्रशासन सभी जरूरी कदम उठा रहा है। कोविड की जांच के लिए जिला प्रशासन ने गौचर एवं जोशीमठ में भी ट्रू.नाॅट मशीन लगा दी है। जबकि कर्णप्रयाग व जिला अस्पताल में पहले से ही जांच के लिए यह सुविधा है। जनपद वासियों को संक्रमण से बचने के लिए शारीरिक दूरी रखने एवं मास्क पहनने के लिए लगातार जागरूक किया जा रहा है। जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया के निर्देशों पर स्वास्थ्य विभाग ने सैंपल जांच का दायरा भी बढा दिया है ताकि अधिक से अधिक लोगों की जांच हो सके। शनिवार को 400 संदिग्ध व्यक्तियों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए। जिले से अभी तक 33322 व्यक्तियों के सैंपल टेस्ट के लिए भेजे जा चुके हैं, जिसमें से 28785 सैंपल नेगेटिव तथा 1446 सैंपल पाॅजिटिव मिले। जबकि 1588 सैंपल की रिपोर्ट आनी बाकी है।

कोविड संक्रमण से बचाव के दृष्टिगत बाहरी प्रदेशों से आए 41 प्रवासी अभी फेसलिटी क्वारटीन में ठहराए गए लोगों की रेग्यूलर जाॅच कर रही है। इसके अलावा 166 प्रवासियों को होम क्वारंटीन किया गया है। होम क्वारंटीन लोगों के मेडिकल जांच के लिए गठित 23 मोबाइल चिकित्सा टीमें गांवों में घर.घर जाकर जांच कर रही है। इसके अलावा आशा के माध्यम से भी होम क्वारंटीन लोगों की नियमित स्वास्थ्य जांच की जा रही है। जिलाधिकारी ने सभी प्रवासियों को क्वारंटीन नियमों का पूरी तरह से पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है। शासकीय कार्मिकों के माध्यम से क्वारंटीन लोगों पर निरतंर निगरानी रखते हुए नियमों का उल्लंघन करने वाले व्यक्तियों के विरूद्ध कार्यवाही भी अमल में लाई जा रही है।

जिले में कोविड नियमों का उल्लंघन करने पर डीएम एक्ट के तहत 43 एफआईआरए सोशियल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करने पर 1817 तथा मास्क न पहनने पर 5100 लोगों को दंड स्वरूप जुर्माना लगाया गया। महामारी अधिनियम के तहत क्वारंटाइन का उल्लंघन करने पर 15 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने पर 01 तथा पुलिस एक्ट के तहत 2454 लोगों के खिलाफ कार्यवाही की गई है। पुलिस प्रशासन के माध्यम से अब तक 4952 मास्क भी वितरित किए गए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here