नेताओं में मची रेल से उत्तराखंडियों को लाने का श्रेय लेने की होड़

256

रेल मंत्री ने अपने ट्वीट में तीन नेताओं की दिली ख्वाहिश की पूरी
एक के बाद दूसरा ट्वीट भी करना पड़ा रेलवे मंत्री को
न्यूज वेट ब्यूरो
देहरादून। महामारी के इस दौर में भी भाजपा नेता खुद का श्रेय लेने की होड़ में हैं। रेल मंत्री पीयूष गोयल का ट्वीट इस तथ्य की तस्दीक कर रहा है। गोयल ने उत्तराखंड के प्रवासियों के लिए रेल चलाने पर एक ट्वीट में दो नेताओं का नाम लिखा। इससे बात नहीं बनी तो 10 घंटे बाद उन्होंने एक और ट्वीट करके तीसरे नेता का नाम भी लिख मारा।
आपदा के इस दौर में जहां नेताओं को आपसी सहयोग से काम पर जोर देना चाहिए। वहीं सत्तारूढ़ दल भाजपा के नेता खुद ही श्रेय लेने की होड़ में है। ये नेता कोई भी काम कर रहे हैं तो सोशल मीडिया में उसे जमकर प्रचारित किया जा रहा है। ताजा मामला उत्तराखंड के प्रवासियों के लिए रेल चलवाने की है। इस मामले में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने रेल मंत्री से बात की। इसी बीच सोशल मीडिया में राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी पर रेल चलवाने में सहयोग न करने की बातें भी हुईं।

अंततः रेल मंत्रालय ने उत्तराखंड के प्रवासियों के लिए स्पेशन ट्रेन चलवाने पर सहमति दी। इसमें भी श्रेय लेने की होड़ सी मच गई। इसके बाद रेल मंत्री पीयूष गोयल ने एक ट्वीट किया। इसमें उन्होंने लिखा कि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और सांसद अनिल बलूनी के प्रयासों ने राज्य के प्रवासी बंधुओं को घर पहुंचाने के लिए रेलवे श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाने जा रही है। रेल मंत्री का यह ट्वीट भी जमकर वायरल हुआ।
मामला उस समय और अजीब हो गया जबकि रेल मंत्री पीयूष ने पहले ट्वीट के 10 घंटे बाद एक और ट्वीट किया। अपने पहले ट्वीट के नीचे ही रेल मंत्री ने लिखा भारत सरकार के वरिष्ठ मंत्री डाण् रमेश पोखरियाल निशंक लगातार मेरे संपर्क में रहे हैं और उनके मार्गदर्शन से ही हम उत्तराखंड के लिए ट्रेने चालू करवा सके हैं।
अब यह मामला उत्तराखंड की सियासत में चर्चा का विषय बना हुआ है। इस ट्वीट के निहितार्थ निकाले जा रहे हैं कि क्या अंदरखाने कोई सियासी खेल तो नहीं चल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here