केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री निशंक पहुंचे भगवान बदरीनाथ के दर

112

01– भगवान श्री हरिनारायण के दर्शनो के बाद सिंहद्वार पर लोगो का अभिवादन करते डा0 निंशंक।
प्रकाश कपरूवाण
जोशीमठ। एचआरडी मिनिस्ट्रर डा0 निंशक ने किए भगवान बदरीविशाल के दर्शन।
केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डा0 रमेश पोखरियाल निशंक ने शनिवार को भगवान बदरीविशाल के दर्शन/पूजन किए। डा0 निंशक चाॅपर से केदारनाथ से सीधे बदरीनाथ पंहुचे। यहाॅ सिविल हेलीपेड पर उतरने के बाद वे सीधे मंदिर पंहुचे। जहाॅ पूजा अर्चना के उपरांत लोगो से भेंट की। डा0 निशंक लोकसभा चुनाव 2019 के मतगणना से पूर्व कपाटोदघाटन पर भी केदारनाथ व बदरीनाथ के दर्शनो के पंहुचे थे। माना जा रहा है कि भगवान बदरी-केदार ने उनकी लोकसभा जीत व केन्द्रीय मंत्रिमंडल मे शामिल होने की प्रार्थना को सुना इसी के निमित्त वे दोनो धामो मे पूजा के लिए पंहुचे थे।
बदरीनाथ पंहुचने पर बीकेटीसी के अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल, सीईओ बीडी सिंह, कर्णप्रयाग के पूर्व विधायक अनिल नौटियाल, डिमरी पंचायत के राकेश डिमरी, आशुतोष डिमरी, बदरीनाथ के धर्माधिकारी आचार्य भुवन च्रद उनियाल,मंदिर अधिकारी एमपी सती, सहायक मंदिर अधिकारी राजेन्द्र चैहान, मंदिर अभियंता विपिन तिवारी ,दफेदार कृपाल सिंह सनवाल,बीकेटीसी के सदस्य मोनू पंचभैया व चंद्रकला ध्यानी नगर पंचायत सलाहकार समिति के अध्यक्ष अरविंद शर्मा , ब्यापार ंसघ बदरीनाथ के अध्यक्ष विनोद नवानी , आदि ने उनका स्वागत किया।
भगवान बदरीविशाल के सभा मंडप मे धर्माधिकारी आचार्य उनियाल के अलावा अपर धर्माधिकारी आचार्य सत्य प्रसाद चमोला,, आचार्य राधाकृष्ण थपलियाल, वेदपाठी रविन्द्र भटट आदि ने डा0 निशंक की पूजाओ को संपादित कराया।
बदरीनाथ के ंिसहद्वार पर बातचीत करते हुए मानव संसाधन विकास मंत्री डा0निंशक ने कहा कि देव भूमि उत्तरांखड के प्रवेश द्वार हरिद्वार से लेकर चारो धामो मे तीर्थयात्रियों का सैलाब है। कहा कि पर्यटन व तीर्थाटन ही राज्य की आर्थिकी की रीढ है। चारो धाम सडक नेटवर्क के साथ रेल नेटवर्क से भी जु डे इसके लिए मोदी सरकार गंभीरता से प्रयास कर रही है। डा0 निशंक ने पूरे देश की सुख-समृद्धि व खुशहाली की कामना भगवान श्री हरिनारायण से की ं। इस मौके पर बीकेटीसी के अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल व सीईओ बीडी सिंह ने मानव संसाधन विकास मंत्री को अंग वस्त्र व बदरी प्रसादम देकर सम्मानित किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here