घस्यारी महिलाएं अपना रही हैं सोशल डिस्टेंस

49

गैरसैंण। कोराना संक्रमण के बढ़ते हुए खतरों को देखते हुए प्रशासन के साथ साथ आम जन मानस भी चौकन्ना हो गया है। आम तौर पर एक बजे बाद गैरसैँण के सभी कस्बों में पूरी तरह लाँकडाउन का पालन किया जा रहा है।
राशन, सब्जी, फलों की दुकानों में अधिक भीड़ नहीं देखी गई। गैरसैंण और आस पास के कस्बों में आलू 35 प्याज 40 और टमाटर 50 तथा आटा खुला 30रू प्रति किग्रा की दर से बेचा जा रहा है। लोग सोशल डिस्टेंस और सेनीटेशन का भी प्रयोग कर रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों के पशुपालक महिलाएं भी रोजमर्रा के कार्यों में पूरा एतिहात बर्तते हुए एक बजे तक सक्रिय नजर आये। अब बाजारों में खरीददारी के लिए भीड़ भी नगड्य हो गई है। सामाजिक कार्यकर्ताओं और प्रशासन द्वारा जरूरतमंद गरीब दिहाड़ी मजदूरों की मदद की जा रही है। मालकोट के नयन सिंह और नगर पंचायत गैरसैँण के सभासद कुंवर सिंह रावत द्वारा भी गरीबों को दाल चावल सब्जी वितरित की जा रही है। एन टी राकेश पल्लव ने बताया कि सोमवार को उपजिलाधिकारी के मार्गदर्शन में वह माईथान क्षेत्र में लगभग 35 गरीब दिहाड़ी मजदूरों को राहत पैकेज वितरित कर चुके हैं तथा राहत का कार्यक्रम जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here