चमोली प्रशासन ने जरूरतमंदों के लिए राशन भेजा

122

फोटो-
1-जरूरतमंदों को राशन वितरित करते हुए।
2-तहसीलों को खाद्यान किट भिजवाते सी डी ओ हंसा दत्त पांडेय
प्रकाश कपरवान
जोशीमठ, चमोली। चमोली जनपद में कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए जिला प्रशासन द्वारा सभी सुरक्षात्मक कदम उठाये जा रहे है। आवश्यक सेवाओं को छोडकर सभी गतिविधियों को 22 मार्च से लाॅकडाउन किया गया है। जिले की सभी प्रवेश सीमाओं पर कडी चौकसी रखी जा रही है और सभी वाहनों को भी सेनेटाइज्ड करने के बाद प्रवेश दिया जा रहा है। विशेष परिस्थितियों को छोडकर किसी को भी जिले से बाहर जाने की अनुमति नही दी जा रही है। पूरे जिले में लाॅकडाउन का सख्ती से अनुपालन कराया जा रहा है।
जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया लगातार स्थिति पर नजर रखे हुए है और रोज वरिष्ठ अधिकारियों के साथ इसकी समीक्षा भी कर रहे है। लाॅक डाउन में दी जा रही छूट के दौरान भी लोगों को सोसियल डिस्टेंशिग का पालन कराया जा रहा है। लोग स्वयं भी सोसियल डिस्टेसिंग का ख्याल रखने लगे है। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए नगर निकायों में बस स्टेशन, सड़क, नालियां, पैदल मार्ग, सुलभ शौचालयों अन्य सभी स्थलों पर भी हर रोज फागिंग एवं डिसिन्फेक्टेन्ट दवाओं का छिडकाव किया जा रहा है। गांव गलियों को स्वच्छ रखने के लिए साफ सफाई के बाद स्प्रे एवं ब्लीचिंग पाउडर का छिडकाव कराया जा रहा है। आशा वर्कर की देखरेख में गांव में होम क्वारेंन्टाइन में रखे लोगों की दैनिक रिपोर्ट भी राजस्व उप निरीक्षकों से ली जा रही है। जिलाधिकारी ने होम क्वारेन्टाइन में रखे लोगों पर कडी निगरानी रखने और कोरोना का कोई भी लक्षण दिखने पर तत्काल चिकित्सकों की टीम से जाॅच कराने को कहा है।
लाॅकडाउन में किसी को भी खाद्यान्न का संकट न हो इसके लिए जिलाधिकारी स्वयं इसकी दैनिक समीक्षा कर रहे है। गोदामों से सभी सस्ते गल्ले की दुकानों तक अप्रैल और मई का एडवांस में राशन उपलब्ध कराया जा रहा है। दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों में खाद्यान्न पहुॅचाने के लिए 206 डिलीवरी प्वांइट बनाए गए है। इन सभी डिलवरी प्वाइंट तक सीधे थोक विक्रेताओं से राशन एवं जरूरी सामग्री पहुॅचायी जा रही है। सोमवार को गैस एजेन्सियों ने मेंरग, ढाक, बडागांव, तपोवन, छिनका, मंडल, बसंत विहार, ल्वाणी, नारंगी, कुमारतोली, सेनी, दसतोली, पोखरी, कर्णप्रयाग, गौचर, थराली, कोटदीप, ग्वादम, तलवाडी, थाला, लोल्टी, सवाड, कनीगाड, बुकराखात, पाण्डुवाखाल, उजतियाखाल, सिलंगा, रंगचोडा, चमोली, पीपलकोटी, कोठियासैंण, तपोवन, करछो, भग्यूल आदि स्थानों पर 1841 गैस सिलेण्डर की आपूति कराई गई। जिले में पेट्रोल और डीजल की भी नियमित सप्लाई हो रही है।
मुख्यमंत्री राहत कोष से मिली धनराशि से रोज मजदूरी करके जीवनयापन करने वाले गरीब, असहाय एवं जरूरतमंद लोगों तक जिला प्रशासन द्वारा तहसीलों के माध्यम से फूड पैकेट वितरित कराए जा रहे है। गरीब लोगो की मदद के लिए जिला प्रशासन ने हेल्पलाइन नंबर 7055753124 भी जारी किया है, ताकि किसी भी गरीब व्यक्ति को राशन को लेकर परेशानी न हो। अभी तक तहसीलों को 550 फूड पैकेट भेजे जा चुके है। जिसमें थराली तहसील को 150, कर्णप्रयाग को 150, जोशीमठ को 100, गैरसैंण को 100 तथा चमोली को 50 फूड पैकेट भेजे गए है। जिसमें से 365 फूड पैकेटों का तहसील स्तर पर जरूरतमंद लोगों में वितरण कराया जा चुका है।
जिलाधिकारी ने सभी बैंकों को वित्तीय वर्ष की समाप्ति के दिन 31 मार्च को रात्रि 12ः00 बजे तक खुला रखने के निर्देश भी जारी किए है। उन्होंने बताया कि आम जनता के लिए पहले की तरह ही सुबह 7 बजे से 10 बजे तक बैंक खुले रहेंगे।
जिलाधिकारी ने आमजन से अपील की है कि वो किसी भी अफवाह या भ्रांति पर विश्वास ना करें। बताया कि सोशल मीडिया पर ऐसी अफवाह संज्ञान में आ रही है कि घर के बाई तरह पठाल के नीचे कोयला निकल रहा है जिसका टीका लगाने से कोरोना से बचा जा सकता है। उन्होंने कहा कि यह एक मात्र भ्रंाति है। ऐसी अफवाहों पर बिल्कुल ध्यान ना दे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here