धारगैड़ के मंदिरों में चोरी का खुलाशा करें, एसडीएम को ज्ञापन सौंपा

39

गैरसैंण। सप्ताह पहले धारगैड़ के म‌ंदिरों में हुई चोरी का खुलासा नहीं होने और 5 साल पूर्व निर्मित पोस्ट आँफिस से धारगैड़ तक सड़क पर डामरीकरण नहीं होने पर आक्रोषित ममंद की महिलाओं ने उपजिलाधिकारी कौस्तुभ ‌मिश्र को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में महिलाओं ने कहा कि पुलिस प्रशासन चोरों को पकड़ने के लिए क्या प्रयास कर रहा है और तीन दिन के भीतर शीघ्र ही चोरों का खुलासा किया जाय। अन्यथा वह धरना प्रदर्शन के साथ साथ विधानसभा का घेराव भी करेंगी। ममंद ने इस पर एस डी एम कौस्तुभ मिश्र ने महिलाओं को आस्वस्थ करते हुए कहा कि पुलिस चोरों का पता लगाने में प्रयासरत हैं। अभी तक क्या सुराग मिले हैं इसका खुलासा पुख्ता होने पर ही किया जायेगा। साथ ही उन्होंने ‌कहा कि आवश्यक स्थानों पर नगर पंचायत द्वारा स्ट्रीट लाईट लगाये जायेंगे।
सड़क डामरीकरण और ग्रामीणों को सड़क में कटी जमीन का मुवावजा के लिए कार्यदायी संस्था आर डब्लू डी से संपर्क कर उचित कार्यवाही कर दी जायेगी। इस दौरान ममंद की महिलाओं ने आवारा पशुओं से खेती को होने वालेे नुकशान का जिक्र भी किया तथा अवारा पशुओं पर नियंत्रण की बात भी कही। उप जिलाधिकारी ने बताया कि वह आवारा पशुओं के लिए रामगंगा नदी तट पर लगभग दो हैक्टर गौचर भूमि चिन्हित कर चुके हैं नगर पंचायत को प्रस्ताव पारित कर गौ आश्रय परिसर के विकास के
लिए कार्यवाही करनी होगी ताकि शीघ्र ही आवारा पशुओं पर नियंत्रण के साथ साथ ग्रामीणों हो होने वाले नुकसान से बचाया जा सके। इस दौरान ममंद अध्यक्ष विमला देवी, उमा देवी, वीमा, वीरा, शांती, कुन्ती, सीता, मीना, विमल, सुरेशी, कमला, शोभा, माहेश्वरी, शकुंतला, गोदांबरी, हेमा, रेवती, मुन्नी, सुशीला, ममता, रेखा, सुमन, राधा, पिंकी, यशोदा, दीपा तथा
पूरन सिंह नेगी, रामसिंह रावत, हयात सिंह, रघुवीर सिंह, कुंदनसिंह आदि तमाम लोग मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here