गोपूजन कर गोसदन की नींव रखी

59

फोटो- गोसदन की नीवं रखने से पूर्व बदरी गाय का पूजन करते हुए।
प्रकाश कपरूवाण
जोशीमठ। बदरी गाय के संरक्षण व संवर्धन के लिए स्थानीय लोगों ने की नई पहल। गौंख में गो पूजन कर गौशाला की शुरूआत की।
विलुप्त होती बदरी गाय के सरक्षण के लिए स्थानीय देव पुजाई समिति एंव गौंख विकास समिति के संयुक्त तत्वाधान मे बदरी गया’’स्थानीय गाय’’ के सरंक्षण एवं सवंर्धन का सकल्प लिया गया। नगर पालिका क्षेत्र से लगा गौखं गाॅव जहाॅ नगर पालिका जोशीमठ के विभिन्न वार्डो के निवासियों की काश्त की सैकडो नाली भूमि है। लेकिन सडक संपर्क नही होने तथा जंगली जानवरो के आंतक के कारण लोगो ने विवश होकर खेती से मुॅह मोड दिया था। गौंख आलू, राजमा, चैलाई जैसी नगदी फसलो के लिए विख्यात रहा है। लेकिन अब लोगो का आवागमन भी बेहद कम हो गया है।
गौंख से जुडे स्थानीय लोगो ने एक नई पहल करते हुए गौंख मे गौ सेवा सदन की स्थापना की परिकल्पना की। और गौखं विकास समिति का गठन किया। स्थानीय देव पुजाई समिति एंव गौख्ंा विकास समिति ने गौ सेवा सदन की वकायदा शुरूवात की। गौख्ंा मे भब्य सुदंर कांड पाठ का आयोजन किया गया। इससे पूर्व बदरी गाय का पूजन हुआ।
देव पूजाई समिति एंव गौंख विकास समिति का मानना है कि यहाॅ बदरी गायों का पालन पोषण के साथ संवर्धन किया जाऐगा। क्योकि परंपरानुसार भगवान बदरीनाथ एव भगवान नृसंिह के अभिषेक मे बदरी गाय की दूध का ही प्रयोग किया जाता है। इसीलिए बदरी गाय के संवरक्षण एवं सवर्धन के लिए यह प्रयास किया गया । गौंख मे स्थानीय लोगो की हुई बैठक मे तय हुआ कि शीध्र ही बदरी गाय के संरक्षण एंव संवर्धन के लिए एक कमेटी का गठन किया जाऐगा। और गौशाला का निर्माण कर पहले चरण मे ब्लाक जोशीमठ की बदरी गायों को पालन/पोषण किया जाऐगा।
बदरी गाय के सरक्षण एव सवंर्धन के संकल्प प्रक्रिया से पूर्व हुए संुदरकाड पाठ मे महिला मंगल दल सुनील, नृंिसहं मदिर, मारवाडी, ंिसहधार,के साथ विभिन्न वार्डो की कीर्तन मंडली के अलावा देव पुजाई समिति के सचिव उमेश सती, गौंख विकास समिति के अध्यक्ष अनिल नंबूरी, भरत प्रसाद सती, विक्रम सिंह कवंाण, देवेन्द्र परमार, आंनद पवंार, सुरेन्द सिंह, उत्तम ंिसंह पंवार, विराज विष्ट, विनोद भटट,एनटीपीसी के एजीएम सिविल- राजेन्द्र कुमार, व राकेश पांण्डे सहित अनेक लोग मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here